Sonia Gandhi JP Nadda Nirvirodh Chunkar Rajya Sabha Pahunche (2024)

नामांकन वापसी की अंतिम तिथि मंगलवार थी। इसके बाद, कई राज्यों से बिना किसी विरोध के उम्मीदवारों को चुना गया। इनमें कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष Sonia Gandhi JP Nadda जोकि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष है भी शामिल है। राजस्थान के संबंध में, तीन सीटों पर उम्मीदवार बिना किसी विरोध का सामना किए चुने गए।

राजस्थान के संबंध में, तीन सीटों पर उम्मीदवार बिना किसी विरोध का सामना किए चुने गए। इनमें बीजेपी से मदन राठौड़, चुन्नीलाल गरासिया और कांग्रेस से सोनिया गांधी के नाम शामिल हैं। अधिकारियों के मुताबिक, सोनिया गांधी, चुन्नीलाल गरासिया और मदन राठौड़ बिना किसी विरोध के राज्य के उच्च सदन के लिए चुने गए। विधानसभा सचिव महावीर प्रसाद शर्मा के मुताबिक, तीनों नेता बिना किसी विरोध के राज्यसभा के लिए चुने गए। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके खिलाफ कोई दूसरा उम्मीदवार नहीं खड़ा था। राज्यसभा के लिए पश्चिम बंगाल से चार टीएमसी उम्मीदवार नदीमुल हक, सुष्मिता देव, ममता बाला ठाकुर और सागरिका घोष को बिना किसी विरोध के विजेता घोषित किया गया है।

मध्य प्रदेश में भी बीजेपी का दबदबा

मध्य प्रदेश के संबंध में, राज्यसभा ने चार भाजपा सदस्यों और एक कांग्रेस उम्मीदवार को बिना किसी विरोध के चुना। भाजपा की ओर से केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री एल मुरुगन, उमेश नाथ महाराज, बंशीलाल गुर्जर और माया नारोलिया राज्यसभा के लिए चुने गए। वहीं कांग्रेस की ओर से अशोक सिंह भी सदन में पहुंचे हैं।

गुजरात में निर्विरोध चुने गए उम्मीदवार – Sonia Gandhi JP Nadda

आपको बता दें कि गुजरात में राज्यसभा की चार खुली सीटें थीं। इनमें से प्रत्येक सीट पर बीजेपी ने जीत हासिल की है। इस निर्णय के पीछे विधानसभा का प्रचंड बहुमत प्रेरक शक्ति थी। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गोविंद ढोलकिया, जसवन्त सिंह परमार और मयंक नायक बिना किसी विरोध के राज्यसभा के लिए चुने गए।

बिहार में निर्वाचित हुए उम्मीदवार

बिहार में राज्यसभा सीटों के लिए दो राजद उम्मीदवार, एक जदयू उम्मीदवार, दो भाजपा उम्मीदवार और एक कांग्रेस उम्मीदवार मैदान में थे। इसके अतिरिक्त, इन छह उम्मीदवारों में से प्रत्येक को निर्वाचित किया गया था। ये हैं जेडीयू के संजय झा, राजद के मनोज झा और संजय यादव, बीजेपी के भीम सिंह और धर्मशीला गुप्ता और कांग्रेस के अखिलेश सिंह। इनमें से सभी छह उम्मीदवार बिना किसी विरोध के चुने गए और अब वे राज्यसभा के सदस्य हैं।

Read more

Leave a Comment