Ganesh Pratima Ne Ladke Ko Samudra Me Dubne Se Bacha Liya

गुजरात के सूरत में पांचवी क्लास का एक ladke ko samudra me dubne se bacha liya । यह जानकर आप भी चौंक जाएंगे की एक बेहद अनोखे तरीके से ladke ko samudra me dubne se bacha liya । लड़के का नाम लाखन है और उसकी उम्र 14 साल है। दरअसल, गणेश विसर्जन देखने के दौरान लाखन गहरे पानी में चला गया था। परिजनों ने हर जगह तलाश की लेकिन वह नहीं मिला। डूबने के बाद बच्चा 24 घंटे तक भगवान गणेश प्रतिमा को पकड़कर तैरता रहा। अंततः मछुआरों ने उसे ढूंढ लिया, जिससे उसकी जान बच गई।

भगवान गणेश की मूर्ति को पकड़कर 24 घंटे तक तैरता रहा

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे लाखन, उसकी दादी सविताबेन, भाई करण (11) और बहन अंजलि (10) गणेश विसर्जन देखने के लिए सूरत के डुमस बीच पर गए। फिर वह समुद्र में गिर गया। 24 घंटे तक लाखन गणेश प्रतिमा को पकड़कर तैरता रहा। तट से 18 समुद्री मील की दूरी पर वह पानी में तैर रहा था। नवदुर्गा गुजरी, एक युवा मछुआरा लड़की, अभी-अभी वहाँ से गुज़री थी। लाखन ने उन पर चिल्लाया और अपना हाथ बढ़ाया, जिससे मछुआरे को दौड़ने के लिए प्रेरित किया और ladke ko samudra me dubne se bacha liya।

UID Ahemdabad: Ek Margadarshak Kadam

Gujarat Me Dhaarmik Yatra Pr Pathraav Pr Hua Bhari Vivaad

Ladke ko Samudra Me Dubne Se Bacha liya 36 घंटे बाद परिवार से मिला

लड़का की सांसें चल रही थीं। इसके बाद लाखन को नवसारी के धोआली बंदरगाह ले जाया गया। किनारे पर पहुंचने से पहले पुलिस को सूचना दे दी गई। इससे पहले कि नाव वहां पहुंच पाती, एम्बुलेंस आ गई। अधिकारियों के मुताबिक, 14 साल का लाखन 36 घंटों के बाद अपने परिवार से मिला। जब परिवार को यह बात बताई गई तो शोक मनाने वालों की आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े। युवक को नवसारी अस्पताल में ले जाया गया। 

अस्पताल में युवक को देखने के लिए भारी भीड़ जमा हो गई। सांसद और गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल ने भी अस्पताल का उसका हालचाल लेने के लिए किया। पाटिल ने लाखन से कहा कि उसे मिली नई जिंदगी का वह अच्छा इस्तेमाल करे और पढ़-लिखकर डॉक्टर बने। पाटिल ने संवाददाताओं को बताया कि वह इस बात से भी स्तब्ध हैं कि एक युवा लड़के को इतने लंबे समय तक पानी में गणेश प्रतिमा के टुकड़े पकड़े रहने के बाद डूबने से बच गया।

Leave a Comment