Gujarat Ke Ahemdabad Me Economy Conclave Ka Ayojan

तेलंगाना के राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन के अनुसार, उत्तरी राज्य गोमूत्र के लिए नहीं, बल्कि गाय के पवित्र प्रतीक का प्रतिनिधित्व करते हैं।

तमिलिसाई की टिप्पणी DMK नेता सेंथिल कुमार के संसद में विवादास्पद बयान देने के बाद आई है। राज्यपाल तमिलिसाई ने शुक्रवार, 8 दिसंबर को गुजरात के ahemdabad me economy conclave ka ayojan विश्वविद्यालय और इंडिया थिंक काउंसिल द्वारा आयोजित किया गया।

ahemdabad me economy conclave ka ayojan किया गया जिसमे उन्होंने सेंथिल कुमार की टिप्पणी को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के लोकसभा सांसद सेंथिल कुमार ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की जीत के बाद मंगलवार, 5 दिसंबर को हिंदी भाषी राज्यों को “गोमूत्र राज्य” कहा।

तमिलिसाई बोलीं- मुझे बुरा लगा कि यह कहने वाला खुद तमिलनाडु से है

तमिलिसाई ने कहा- मैं तमिलनाडु से हूं और मुझे यह कहना पड़ रहा है, क्योंकि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि आजकल कुछ लोग उत्तर-दक्षिण को बांट रहे हैं। मुझे बहुत बुरा लगा जब तमिलनाडु के ही एक संसद सदस्य ने यह कहा कि उत्तरी राज्य गौमूत्र राज्य हैं। मैं यही कहूंगी कि उत्तरी राज्य गौमुद्रा स्टेट्स हैं, गौमूत्र नहीं।

तेलंगाना गवर्नर बोलीं- मैं ऐसा इसलिए कह रही हूं क्योंकि यह विभाजन नहीं होना चाहिए। हर एक का सम्मान होना चाहिए। प्राचीन काल में तमिलनाडु के लोग हुंडियाल (गुल्लक) भगवान के सामने रखते थे। वे हर दिन इसमें कुछ पैसे डालते थे, ताकि वे उस पैसे से अपने जीवन में कम से कम एक बार काशी जा सकें।

Gujarat Ke Surat Me Lift Me Fasne Se Nabalik Ki Maut

Gujarat Me 5 Logo Ki Hui Ayurvedic Syrup Peene Se Maut

सेंथिल ने पहले संसद के बाहर, फिर अंदर माफी मांगी

लोकसभा में जम्मू-कश्मीर आरक्षण और पुनर्गठन विधेयक पर चर्चा हो रही थी। इस दौरान, धर्मपुरी से DMK सांसद डॉ. सेंथिल कुमार ने कहा कि भाजपा की ताकत हिंदी हिंदी बेल्ट के राज्यों को जीतने तक ही सीमित है – जिन्हें हम आमतौर पर “गोमूत्र राज्य” कहते हैं। इसके अतिरिक्त, सेंथिल ने कहा था कि भाजपा को दक्षिणी राज्यों में BJP को घुसने नहीं दिया गया ।

निस्संदेह इस बात की संभावना है कि कश्मीर के की ही तरह, भाजपा दक्षिण भारत के राज्यों को केंद्र शासित प्रदेश न बना दे, क्योंकि ये वहां जीत नहीं सकते तो उसे UT बनाकर गवर्नर के जरिए शासन कर सकते हैं। हालाँकि, सेंथिल ने अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगी, पहले संसद के बाहर और फिर अगले दिन की कार्यवाही के दौरान, जब उन्होंने स्थिति को गंभीर होते देखा।

Ahemdabad Me Economy Conclave Ka Ayojan: तमिलिसाई के बयान की बड़ी बातें…

राज्यपाल सुंदरराजन के अनुसार, भारत की आबादी को क्षेत्रीय आधार पर विभाजित करने के प्रयासों को स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा- आप लोगों को कैसे विभाजित कर सकते हैं? आध्यात्मिक रूप से लोग विभाजित नहीं हैं। राजनीतिक रूप से कुछ लोग विभाजित करना चाहते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हो सकता क्योंकि इस देश के लोग आध्यात्मिक रूप से एकजुट हैं।

तमिलनाडु में रामेश्वरम और काशी का अलग से उल्लेख नहीं किया गया है। यह काशी-रामेश्वरम है, लोग दावा करते हैं। जो भी व्यक्ति अपनी आध्यात्मिक यात्रा पूरी करने के लिए काशी जाता है, वह रामेश्वरम भी जाता है। और जो लोग रामेश्‍वरम की यात्रा करते हैं, वे काशी भी जाते हैं।

उत्तर-दक्षिण विभाजन को बढ़ावा देना अच्छा विचार नहीं है. उत्तर में काशी और दक्षिण में तमिलनाडु का शहर तेनकासी (तमिलनाडु का एक शहर) है। मैं उन लोगों से फिर से कह रही हूं, जो विभाजन करना चाहते हैं। वे सफल नहीं होंगे क्योंकि हमारे संस्कृति हमें एकजुट करती है।

Gujarat Ke Kutch Me Bhukamp Ke Jhatke Hue Mahsoos

Hardik Ke Sath Is Player Ko Bhi Khone Wali Thi Gujarat Titans

Leave a Comment